छोटी बहन या बेस्ट फ्रेंड

वैसे तो दो बहनो का रिश्ता हमेशा ही सुन्दर होता है पर अगर आपकी छोटी बहन है तो फायदे कई ज्यादा है वो आपकी सबसे अच्छी दोस्त होती है,आपकी गलतियों में आपकी पार्टनर होती है साथ ही साथ घर-परिवार संबंधी दुख-सुख की बातें हों या देश-समाज की समस्याओं पर गरमागरम बहस। किसी कहानी के पात्र के बारे में डिस्कस करना हो या फिर शेयर करना हो ऑफिस गॉसिप। इसके लिए कान और कंधा तो बहन का ही अनुकूल होता है। वह संयम रखकर हर बात सुन सकती है, राज छुपा सकती है, किसी भी विषय पर सही और सटीक सलाह दे सकती है या सही लफ्जो में आपकी परछाई जिसपर भरोसा किया जा सके वो बहन ही होती है |

sister

कुछ खास बाते जो सिर्फ दो बहनो में होती है-

हमेशा एक दूसरे को परेशान करना- बहनो का रिश्ता ऐसा ही होता है किसी वक़्त वो आपकी सबसे बड़ी दोस्त होती है, तो अगले ही पल दुश्मन एक दूसरे को इरिटेट करना लड़ना गुस्सा होना,मनाना और फिर एक हो जाना ये सिर्फ दो बहने ही कर सकती है |

sista

जो तेरा है वो मेरा- ये लाइन्स बहनो में खूब जंचती है फिर चाहे अपनी बहन खुद के तैयार किए हुए कपड़े पहन के घूमना हो या  उसके मेक अप का यूज़ करना ये तो हर बहन का  जन्मसिद्धा अधिकारहोता है, बल्कि अपनी चीजों के इस्तेमाल से ज्यादा मज़ा बहन की चीजे इस्तेमाल करने में आता है |

blair-serena-gossip-girl

किस्से रिश्तो के -कुछ बातें ऐसी होती हैं, जिन्हें फीमेल फ्रेंड्स के साथ भी शेयर नहीं किया जा सकता। इसके लिए तो ब्लड रिलेशन होना जरूरी है।ये सारी बातें आप बहन से ही शेयर कर सकती हैं, जो न सिर्फ आपको उचित सलाह देती है, बल्कि गल्तियों के लिए डांट भी लगाती है। सही और गलत की पहचान कराने में बड़ी और छोटी का भेद भी मिट जाता है। दरअसल, यह किस्सा पीढ़ी दर पीढ़ी चला आ रहा है। जो बाते आप अपनी माँ से शेयर नहीं कर पाते बहने उन पर खुल कर बात करती है और पीढ़ियों से एक दूसरे के साथ सुख एवं दुःख साझा कर रही है |

sistera

प्रतिद्वंद्वी नहीं, सहायक- दो बहने आपस में कभी प्रतिद्वंदी नहीं होती अपितु एक दूसरे की सहायक होती है वह आपको संपूर्ण होने का अहसास दिलाती है। बिना किसी प्रतिस्पद्र्धा का भाव जगाए वह हर अच्छे-बुरे की पहचान कराती है।महिलाएं पढ़ी-लिखी हों या अनपढ़, बहनों की आपस में अंडरस्टैंडिंग काफी बढिय़ा होती है। महत्वाकांक्षी न होने के कारण वे जिंदगी के हर मोड़ पर आपकी प्रतिद्वंद्वी नहीं, बल्कि सहायक सिद्ध होती हैं। आगे बढ़ता हुआ देखकर वह आपकी टांग नहीं खींचेंगी बल्कि हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करेंगी |

इमोशनल सपोर्ट – आपकी बहन आपको न केवल मेंटल, बल्कि इमोशनल सपोर्ट करती है। वे अच्छी लिस्नर भी होती हैं। कुछ मामलों में तो पति-पत्नी से भी अधिक मजबूत रिश्ता दो बहनों का होता है।क्योंकि एक ही जेंडर को बिलोंग करने वाली दो लड़कियों की मनोस्थिति काफी हद तक समान होती है इसलिए एक दूसरे की कठिनाइयों को उनके मन की बातो को वो ज्यादा बेहतर तरीके से समझ सकती है और सपोर्ट भी प्रदान करती है |

sis

सबसे अच्छी दोस्त –दो बहनें मानसिक स्तर पर समान होती हैं। उम्र का अंतर अधिक होने के बावजूद दोनों की समस्याएं लगभग एक समान होती हैं। एक समय के बाद लड़कियां अपने मन की बात मां की बजाय बहनों से शेयर करने में अधिक सुरक्षित महसूस करती हैं।वो आपस में सबसे अच्छी दोस्त होती है |बहन आपके जीवन के अधूरेपन को भरती है। इस जमाने में भी बहनों की आत्मीयता देखते ही बनती है। खासतौर पर यदि मां वर्किंग हो तो बड़ी बहन का रोल मां जैसा हो जाता है।

 

Leave a Reply