ब्लड लाइफ सेवियर- एक सामाजिक पहल

वैसे तो देश में सोशल मीडिया का उपयोग आपसी बातचीत और संदेशो के आदान प्रदान को लेके होता है, लेकिन शहर के कुछ युवाओ ने मिलके इसे जरुरत मंदो की सहायता करने का माध्यम बना दिया | जो हमेशा लोगो की मदद को तत्पर है ऐसा ही एक ग्रुप है ब्लड लाइफ सेवियर ,ये एक टीम है जिसे २०१६ में श्रेय अग्रवाल और उनके दो साथियो ने मिलकर तैयार की जिसे अब श्रेय अग्रवाल अकेले ही संचालित कर रहे है | ये अब तक १५०० लोगो को ब्लड मुहैया करवा चुके है तथा २००० से ज्यादा लोगो का ब्लड टेस्ट करवाने में सफल रहे है |

  • कैसे काम करती हैये टीम किसी भी गरीब या जरुरतमन्द को ब्लड की आवश्यकता हो, और उन्हें डोनर नहीं मिल प् रहा हो, तो ये संस्था उन्हें डोनर दिलवाती है| जिसमे उनकी सहायता बंसल ब्लड बैंक और और भोपाल ब्लड बैंक फतेहगढ़ वाले करते है |२४/ ७ कभी भी रक्त की जरुरत हो, तो वो संस्था को कभी मना नहीं करते डोनर हो तो ठीक, और अगर डोनर ना भी हो तो संस्था के नाम पर ब्लड मिल जाता है| जिसका 7 दिन का समय मिलता है संस्था में ब्लड डोनेट करवाने का ,ये टीम सोशल मीडिया की सहायता से डोनर अरेंज कर जरुरत मंदो को ब्लड मुहैया करवाते है|

संस्था कोई ब्लड डोनेशन कैंप नहीं लगवाती ये बस जरुरत के समय में लोगो को मदद मुहैया करवाती है | हाँ ये ब्लड टेस्ट के लिए फ्री कैंप जरूर लगवाती है| ताकि लोगो को अपना ब्लड ग्रुप पता चल सके ,और वो अधिक से अधिक लोगो की सहायता के लिए आगे आए, अब तक इस टीम के पास १००० से ज्यादा मेंबर है जो समय समय पर अपनी सहायता देते रहते है|

  • अवेयरनेस प्रोग्राम– ये संस्था समय समय पर अवेयरनेस प्रोग्राम आयोजित करती है ,ताकि कभी भी किसी भी जरूरतमंद को रक्त ना मिल पाने की वजह से अपनी जान न गवानी पड़े| श्रेय अग्रवाल खुद लोगो को अधिक से अधिक रक्तदान करने के लिए जागरूक करते रहते है ,तथा वो खुद भी समय समय पे रक्तदान करते है साथ ही साथ जरुरत पड़ने पर यह भारत में कहीं भी रक्त की आवश्यकता हो तो डोनर अरेंज करते है | उनका मानना है हम डॉक्टर नहीं है जो किसी की जान बचा सके पर हाँ रक्दान करके किसी की जान बचने के काम आ सकते है|

  • पुरस्कार और सम्मान– इतनी कम उम्र में समाज के लिए सोचना, और इस तरह समाज के काम आना सबके बस की बात नहीं है | उनके काम को सराहा जाए और किसी की जिंदगी बचा पाने में सहयोग कर पाने से बड़ा कोई पुरुस्कार नहीं है| पर अभी हाल ही में इन युवाओ को राष्ट्रीय रक्तदाता सम्मान समारोह पानीपत में राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किया गया|

चाहो तो कुछ भी मुश्किल नहीं, इन लाइन्स को इन युवाओ ने चरितार्थ कर दिया है | आवश्यकता है, लोगो को समझने और जागरूक होने की| मेरे इस आर्टिकल की सहायता से अगर मै कुछ लोगो को रक्तदान से जुड़ने के लिए जागरूक कर पाई ,तो मेरा लिखना सफल हो जाएगा | तो चलिए आइये और किसी की जिंदगी बचाने में सहयोग कीजिये|

कोई भी इंसान बिना सुपरमैन या स्पाइडर मेंन बने तीन लोगो की जान बचा सकता है इसके लिए उसे थोड़ा सा वक़्त और थोड़ा सा रक्त देना होगा ये रास्ता इंसान को महान बनाने का शार्ट कट होने के आलावा और भी कई फायदे देता है -श्रेय अग्रवाल

Leave a Reply