एंग्री बर्ड गेम की कहानी

Spread the love
Follow us

एंग्री बर्ड फ़िनिश कंपनी रोवियो एंटरटेनमेंट द्वारा बनाई गई एक वीडियो गेम फ़्रैंचाइज़ी है। श्रृंखला बहु रंगीन पक्षियों पर केंद्रित है जो अपने अंडे को हरे रंग के सूअरों, उनके दुश्मनों से बचाने की कोशिश करते हैं। क्रश द क्रश द्वारा प्रेरित, गेम को मजेदार गेमप्ले, हास्य शैली और कम कीमत के अपने सफल संयोजन के लिए सराहना की गई है। इसकी लोकप्रियता ने कई स्पिन-ऑफ का नेतृत्व किया, पीसी और वीडियो गेम कंसोल के लिए एंग्री बर्ड्स के संस्करणों का निर्माण किया गया, जो इसके पात्रों, एक टेलीविज़न कार्टून श्रृंखला और एक फीचर फिल्म की विशेषता वाले व्यापार के लिए एक बाजार है। जनवरी 2014 में नियमित और विशेष दोनों संस्करणों सहित सभी प्लेटफार्मों में दो अरब से अधिक डाउनलोड हुए थे |

श्रृंखला के खेल सामूहिक रूप से तीन अरब से अधिक बार डाउनलोड किए गए हैं,  यह हर समय की सबसे डाउनलोड फ्रीमियम गेम श्रृंखला है। मूल एंग्री बर्ड को “अभी भी सबसे मुख्यधारा के खेलों में से एक” कहा जाता है, “2010 की महान रनवे हिट्स में से एक”,  और “अब तक की सबसे बड़ी मोबाइल ऐप सफलता दुनिया ने देखी है” ।  श्रृंखला पर आधारित एनिमेटेड फीचर फिल्म 20 मई 2016 को कोलंबिया पिक्चर्स द्वारा जारी की गई थी, और पहली मुख्य श्रृंखला एंग्री बर्ड 2, 30 जुलाई 2015 को रिलीज़ हुई थी।

abcom-default-share

 

इसके पीछे की कड़ी मेहनत के बारे में बहुत कम लोगो को ही पता है, कहा जाता है की रोविओ कंपनी को इसके लिए ६ साल तक कड़ी मेहनत करनी पड़ी | इन ६ साल में उन्हें लगभग ५१ बार अफलता मिली पर उन्होंने हार नहीं मानी और आखिरकार इस गेम को सफल बनाने में कामयाबी पाई |

इस गेम को बनाने की नीव कॉलेज में पढ़ने वाले युवक ग्रुप ने रखी और ये उस दौर की बात है जब साप-सीडी जैसे गेम लोकप्रिय थे उस समय लोगो ने सोचा भी नहीं था की मीडिया ऐसे गेम भी बना सकता है | इस प्रकार रोविओ कंपनी एक गेम कंपनी से हटकर एक मीडिया कंपनी के रूप में स्थापित हुई |

इसके बात कंपनी द्वारा अलग अलग प्रकार में एंग्री बर्ड गेम लांच किये गए जैसे एंग्री बर्ड २, एंग्री बर्ड गो, जिसकी बेहद ज्यादा सराहना की गई रोविओ कंपनी आज एक अलग ही मुकाम पर है, जो अब एक ब्रांड वैल्यू बन गई है | ये एक ऐसा उदहारण है, जो लोगो को सीख देता है की मुश्किलों से डर के भागने की जगह अगर उनका खुद पे निश्चय करके सामना करे तो सफलता अवस्य प्राप्त होगी |

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *