आतंक पर विजय

Spread the love
Follow us

आज सुबह की पहली किरण भारत के लिए एक नया सवेरा लेकर आई हर चैनल पे एक ही खबर चल रही थी की किस तरह भारतीय वायु सेना ने पुलवामा में हुए हमले का बदला ले लिया है पुलवामा हमले के १२  दिन बाद भारतीय वायुसेना ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। मंगलवार तड़के ३.५०  बजे मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने पाक की सीमा में हमला किया। और इसी के साथ उरी फिल्म के डायलॉग “”अब हिंदोस्तान बदल चुका है, ये नया हिंदोस्तान है, घर में घुसेगा भी और मारेगा भी”. को चरितार्थ कर दिखाया ज्ञात हो आज से ठीक १२ दिन पहले १४ फरवरी २०१९ को पुलवामा में सेना से भरी एक बस में सीआरपीएफ के काफिले पर ३५० किलो IED का इस्तेमाल हुआ। जिसमें ३७ जवान अब तक शहीद हो चुके हैं। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। वही पीएम नरेंद्र मोदी के साथ साथ कई राजनेताओं ने इस हमले की निंदा की है। ये हमला श्रीनगर से २० किलोमीटर दूर हुआ। वही इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए दुनिया के दूसरे देशों ने भी भारत को समर्थन दिया है।

जाने क्या हुआ – भारतीय वायुसेना ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। मंगलवार तड़के 3.50 बजे मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने पाक की सीमा में हमला किया।हमले में बालाकोट में जैश का सबसे बड़ा आतंकी कैम्प तबाह कर दिया गया। इसे मसूद अजहर का साला यूसुफ अजहर चलाता था। हमले में कई आतंकी और जैश के सीनियर कमांडर मारे गए।सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि इस हमले में ३५० आतंकी मारे गए हैं।

मिराज-2000 विमान

इस घटना को अंजाम देने के लिए मिराज-2000 का सहारा लिया गया, ये सिंगल इंजन का लड़ाकू विमान है। इसे फ्रेंच एविएशन कंपनी दैसो ने बनाया है। १९७०  में इसकी डिजाइन तैयार की गई थी। १९८२  में भारत ने फ्रांस से मिराज विमानों को खरीदने का फैसला किया था। पहली बार ३६  सिंगल सीट मिराज 2000 एच और चार दो सीटों वाले मिराज टीएचएस विमानों के लिए आर्डर दिए गए।

मिराज-2000 विमान की लम्बाई ४७ फिट और इसका वजन ७५०० किलो है ।

मिराज-2000 की अधिकतम रफ़्तार २५०० किलोमीटर प्रति घंटा है ।

कारगिल युद्ध के समय भी इसने अहम् भूमिका निभाई थी ।

ये विमान ज्यादा से ज्यादा बम या मिसाइल दुश्मनो पर गिराने में सक्षम है।

इसके अलावा ये हवा में दुश्मन का मुक़ाबला भी कर सकता है ।

मिराज-2000 DEFA ५५४ ऑटो कैन से लैस है जिसमे ३० मि मी रिवॉल्वर प्रकार के तोप है।

ये तोप १२०० से लेकर १८०० राउंड प्रति मिनट की दर से आग उगलते है ।

इसी के साथ भारत ने ये दिखा दिया है की अब वो अपने ऊपर होने वाले हमले अब और नहीं सहेगा पडोसी मुल्क ये समझ जाए की भारत अपनी आत्मरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और अपने ऊपर होने वाले हर हमले का वो इसी तरह जवाब देगा  ।

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *